Type Here to Get Search Results !

Gold Rate Today: सोना फिर से सर्वकालिक उच्चतम स्तर पर वहीं चांदी में आई जबरदस्त गिरावट

Gold Rate Today: सोना फिर से सर्वकालिक उच्चतम स्तर पर वहीं चांदी में आई जबरदस्त गिरावट

    नई दिल्ली : सोनू की कीमतों में आज भारत में मजबूती के साथ वैश्विक स्तर पर नए सिरे से तेजी दर्ज की गई हैं। एमसीएक्स 4 अक्टूबर का सोना वायदा 0.7% बढ़कर 38525 के नए उच्च स्तर पर पहुंच गया है।एमसीएक्स पर चांदी वायदा 1.4% बढ़कर 80 लाख 44280 पर पहुंच गया है। उच्च वैश्विक दरों के अलावा एक कमजोर रुपया जो आज प्रति डॉलर के मुकाबले 71 अंक बढ़ गया है इससे घरेलू सोने की कीमतों में तेजी आई है हाजिर बाजारों में सोमवार को ऑल इंडिया सराफा एसोसिएशन का हवाला देते हुए राष्ट्रीय राजधानी में सोना और 50 से बढ़कर 38470 प्रति 10 ग्राम के उच्च स्तर तक पहुंच गया है।
Gold Rate Today: सोना फिर से सर्वकालिक उच्चतम स्तर पर वहीं चांदी में आई जबरदस्त गिरावट


वैश्विक बाजारों में सोने की कीमतें मनोवैज्ञानिक $1,500 थर के ऊपर रही है ।हाजिर सोना 0.6% बढ़कर $1,505 हो गया है वाशिंगटन और बीजिंग के बीच व्यापार युद्ध की वजह से वैश्विक आर्थिक विकास की गति धीमी होने पर सोने की सुरक्षित मांग बढ़ गई है।

आज सोने के दाम बढ़े और चांदी के दामों में हुई वृद्धि

          पिछले हफ्ते अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि वह चीन के साथ व्यापार वार्ता के सितंबर दौर को खतरे में डालकर चीन के साथ एक सौदा करने के लिए तैयार नहीं थे वैश्विक इक्विटी बाजार चिंताओं पर जूझ रहे हैं कि लंबे समय तक यह चीन व्यापार युद्ध और नुकसानदायक सीट मंदी के दौर में शीर्ष अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा या जा सकता है।

विश्लेषकों का कहना है कि वैश्विक स्तर पर लगभग 15 ट्रिलियन डॉलर के नकारात्मक ऋण देने वाले बॉन्ड का समर्थन किया गया वैश्विक बाजारों में इस साल अब तक सोने की कीमतों में 17 परसेंट की गिरावट आई है सप्ताह के अंत में गोल्ड व्यापारी फेडरल रिजर्व के हॉल में वार्षिक संगोष्ठी पर नजर रखेंगे।

सिक्योरिटीज के उपाध्यक्ष हितेश जैन ने वैश्विक केंद्रीय बैंक को सोने की कीमतों में हालिया उछाल नकारात्मक बांध पैदावार के बाजार मूल्य में वृद्धि और मजबूत फोन खरीदने के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

इस साल सोने की कीमतों में तेज बढ़ोतरी के बावजूद गोल्डमैन से सिटीबैंक के मैरिल लिंच के विश्लेषकों का मानना है कि कीमती धातुओं पर अभी भी तेजी बनी हुई है।

जियोजित financial services केशोद प्रमुख विनोद नायर ने कहा की ऐसी आशंका है कि वैश्विक मंदी को यूएस चीन व्यापार समझौते पर Brexit और भू राजनीतिक मुद्दों के बारे में अनिश्चितता को देखते हुए CY2020 तक बढ़ाया जा सकता है उन्होंने कहा इसके परिणाम स्वरूप इक्विटी को निवेश वर्ग के रूप में अपना आकर्षण बढ़ा राय और फंड बॉन्ड और गोल्ड जैसी संपत्ति को स्थानांतरित कर रहा है।

वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक अप्रैल-जून की तिमाही में भारत का सोने का आयात 35.5% बढ़कर 11.45 अरब डॉलर हो गया है लेकिन विश्लेषकों का कहना है कि जुलाई सितंबर के तिमाही के दौरान आयात में भारी गिरावट की संभावना है क्योंकि रिकॉर्ड उच्च कीमतों ने मांग को प्रभावित किया है।

आपको यह लेख कैसा लगा जरूर बताएं और ऐसे ही सोने और चांदी के न्यूज़ जानने के लिए सोने और चांदी के रेट प्राइस जानने के लिए आप हमारे वेबसाइट पर हर रोज विजिट कर सकते हैं धन्यवाद ।